अनुलोम-विलोम प्राणायाम करने का तरीका

By | April 27, 2018

अनुलोम-विलोम प्राणायाम:

यह योग भी कपालभाती की तरह किया जाने वाला योग है | अनुलोम का मतलब होता है सीधा और विलोम का मतलब होता है उल्टा। यहां पर सीधा का अर्थ है नासिका या नाक का दाहिना छिद्र और उल्टा का अर्थ है-नाक का बायां छिद्र। अर्थात अनुलोम-विलोम प्राणायाम में नाक के दाएं छिद्र से सांस खींचते हैं, तो बायीं नाक के छिद्र से सांस बाहर निकालते है। इसी तरह यदि नाक के बाएं छिद्र से सांस खींचते है, तो नाक के दाहिने छिद्र से सांस को बाहर निकालते है।

anulom-vilom yoga img

अनुलोम-विलोम प्राणायाम करने की विधी:

  • सबसे पहले किसी खुली हवा में एक दरी बिछा लें।
  • बाद मे दोनों पैरों को मोड़ कर बैठ जायें जैसे चित्र में दिया गया है। यानि की पहले सुखासन की मुद्रा धारण करें।
  • उसके बाद शांति से कुछ मिनटों के लिए उस मुद्रा में रहें।
  • अब दाएं हाथ के अंगूठे से नाक के दाएं छेद को बंद करें और बाएं नाक से सांस अन्दर की ओर धीरे धीरे खीचें और फिर बंद नाक यानि दाई नाक को धीरे धीरे खोलते हुए उससे सांस को बाहर की ओर धीरे धीरे छोड़ें।
  • ठीक इसी प्रकार अब बाएं हाथ के अंगूठे से नाक के बाएं छेद को बंद करें और दाएं नाक से सांस अन्दर की ओर धीरे धीरे खीचें और फिर बंद नाक यानि बाएं नाक को धीरे धीरे खोलते हुए उससे सांस को बाहर की ओर छोड़ें।
  • इस प्रक्रिया को 7-10 बार दोहोरायें। और प्रतिदिन 2-3 बार करें।

अनुलोम-विलोम प्राणायाम करने के लाभ:

  • इसे करने से आर्थराटीस, कार्टीलेज घीसना जैसी बीमारियाँ भी ठीक हो जाती है|
  • कब्ज़ या एसिडिटी को दूर करने में यह प्राणायाम लाभकारी है।
  • अस्थमा के रोगीयों के लिए भी अनुलोम विलोम प्राणायाम बहुत लाभकारी साबित हुआ है।
  • इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है| और मधुमेह जैसी समस्याए खत्म हो जाती है|
  • इससे पाचन तंत्र भी मजबूत होता है।
  • अनुलोम विलोम प्राणायाम मन की चिंता और तनाव को दूर करने के लिए बहुत लाभकारी है।
  • अनुलोम विलोम प्राणायाम से उच्च रक्तचाप / हाई ब्लड प्रेशर / हाइपरटेंशन भी दूर होता है।
  • अनुलोम विलोम योग में किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं है और आप इसकी मदद से अपना वज़न कम कर सकते हैं।
  • इस आसन से दिल में ब्लॉकेज दूर होता है।
  • अधकपाली / माइग्रेन दर्द की शिकायत भी दूर होता है।
  • इस आसन से कई प्रकार की एलर्जी भी दूर होती है।

हेल्लो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेन्ट करके जरुर बताना और अच्छी लगी हो शेयर जरुर करना |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *