Allergy in hindi
Allergy in hindi

Allergy in hindi || एलर्जी के कारण व उपाय:

आज की इस पोस्ट में हम एलर्जी के कारण, लक्षण व उपचार के बारे में जानेगे |

किसी भी चीज के प्रति अतिसंवेदनशील होना ही एलर्जी है |आजकल कई तरह की एलर्जी देखने में आती हैं। इनमें से जो एलर्जी सबसे ज्यादा परेशानी पैदा करती हैं, वे आंख और नाक की एलर्जी हैं। जब किसी इंसान का ‘इम्यून सिस्टम’ यानी प्रतिरोधक तंत्र वातावरण में मौजूद लगभग नुकसानरहित पदार्थों के संपर्क में आता है तो एलर्जी संबंधी समस्या होती है।

Allergy in hindi

एलर्जी के कारण:

एलर्जी की प्रवृत्ति आपको आनुवंशिक रूप से यानि कि अपने परिवार या वंश से मिल सकती है।

  • सिगरेट के धुएं के संपर्क में ज्यादा समय तक रहना।
  • बच्चों का जन्म उस मौसम में होना, जिस समय वातावरण में पराग कण ज्यादा होते हैं।
  • कई बार घास, पेड़ और फूल भी एलर्जी का कारण होते हैं।
  • जन्म के समय बच्चे का वजन बहुत कम होना।
  • अच्छी खुशबू भले अच्छी लगती हो लेकिन यह भी कुछ लोगों की एलर्जी का कारण हो सकती है।जेसे  परफ्यूम है।
  • कुछ लोगों को रबड़ से बने उत्पाद भी नुकसान पहुंचाते हैं, जैसे दस्ताने, कंडोम, मेडिकल उपकरण आदि।
  • बच्चों को बोतल से ज्यादा दूध पिलाना।

एलर्जी के लक्षण:

  • आंख से पानी आना
  • नाक से पानी आना
  • नाक में बार-बार खुजली होना
  • नाक से पानी आना
  • त्वचा पर पित्त उठना
  • त्वचा पर लाल चकत्ते और दाने होना

एलर्जी का उपचार:

  • धूल, धुंआ और गंदगी से बचकर रहें।
  • एलर्जी का रामबाण इलाज है कपालभाति प्राणायाम |
  • रोजाना कपालभाती करने से एलर्जी नही होती है |
  • ऐसे खाद्य पदार्थ जिन्हें खाने से एलर्जी है, उन्हें न खाएं।
  • गंदगी से एलर्जी वाले लोगों को समय-समय पर चादर, तकिये के कवर बदलते रहने चाहिए।

हा तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी | धन्यवाद् हमसे जुड़ने के लिए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here