Dengue Fever in Hindi || डेंगू के लक्षण और उपचार

By | May 11, 2018

Dengue Fever in Hindi || डेंगू के लक्षण और उपचार:

डेंगू एक वायरस से होने वाली बीमारी का नाम है।  जो एडीज नामक मादा मच्छर की प्रजाति के काटने से होती है। ये मच्छर दिन में, खासकर सुबह काटते हैं।  इस मच्छर के काटने पर विषाणु तेजी से  मरीज के शरीर में अपना असर दिखाते जिसके कारण तेज बुखार और सर दर्द जैसे लक्षण दिखाई देते  है।

इसे हड्डी तोड़ “बुखार” या ब्रेक बोन बुखार भी कहा जाता है ऐसे में जल्दी सी डॉक्टर को दिखाना चाहिएं डेंगू बरसात के मौसम में ज्‍यादा फैलता है। बरसात का पानी गमलों, कूलरों, टायर आदि में एकत्रित हो जाता है जिसमें एडीज मच्‍छर पनपते हैं। डेंगू बुखार से पीड़ित रोगी के रक्त में डेंगू वायरस काफी मात्रा में होता है। जब कोई एडीज मच्छर डेंगू के किसी रोगी को काटने के बाद किसी अन्य स्वस्थ व्यक्ति को काटता है तो वह डेंगू वायरस को उस व्यक्ति के शरीर में पहुंचा देता है।

dengue fever in hindi

डेंगू के लक्षण:

  • तेज ठंड और बुखार।
  • डेंगू बुखार के लक्षण आम बुखार से थोड़े अलग होते हैं।
  • मांस पेशियों एवं जोड़ों में भयंकर दर्द।
  • कुछ आँखों के पीछे दर्द से पीड़ित हो।
  • शरीर में बहुत तेज दर्द होता है, विशेषकर जोड़ों और अस्थियों में।
  • उल्टी व शरीर पर लाल-लाल दाने निकल आते हैं।
  • हल्की खाँसी, गले में दर्द और खराश।
  • जी मिचलाना।
  • नाक से खून बहने से पीड़ित हो।

डेंगू होने के कारण:

  • घर के आस- पास या छत पर पड़े बेकार टायर, ट्यूब, टूटे हुए मटके, खाली डिब्बों आदि न रखे।
  • खाली बर्तनों को उलटा करके रखें।
  • घर के आस- पास सफाई रखे।
  • घर और गली में कीटनाशक का छिडकाव जरुर करवाए।

डेंगू का घरेलू उपचार:

  • डेंगू के बुखार से राहत के लिए धनिया पत्ती के जूस को टॉनिक के रूप में पिया जा सकता है।
  • रोगी को ज्यादा से ज्यादा तरल चीजे दीजिये ताकि उसके शरीर में पानी की कमी न हो।
  • अनार का जूस डेंगू तथा अन्य ज्वरों में बहुत उपयोगी है। अनार का जूस खून की कमी को दूर करता है।
  • आँवला विटामिन सी ( Vitamin C ) का श्रेष्ठ स्रोत है।
  • आँवला शरीर में जाने पर शरीर लौह तत्व का ज्यादा अवशोषण करता है। जिससे खून बढ़ता है।
  • मेथी के पत्तों को पानी में उबालकर हर्बल चाय के रूप में इसका पयोग किया जा सकता है।
  • मेथी से शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं जिससे डेंगू के वायरस भी खत्म होते हैं।

तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेन्ट करके जरुर बताना धन्यवाद् |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *