Glaucoma in Hindi || ग्लूकोमा का उपचार

By | May 15, 2018

Glaucoma in Hindi || ग्लूकोमा का उपचार:

ग्लूकोमा को काला मोतिया भी कहते हैं. यह एक गंभीर परन्तु खामोश नेत्र रोग है. यह बिना किसी आहट के चुपचाप आँखों की रोशनी छीनकर रोगी को अँधा बना देता है. ग्लूकोमा को अदृश्य इसलिए भी कहा जाता है, क्योंकि इसके लक्षण अधिकतर मामलों में प्रकट नहीं होते है।

आंख में एक तरल पदार्थ भरा होता है यह तरल पदार्थ आंख के गोले को चिकना किए रहता है यदि इस तरल पदार्थ का रिसाव रुक जाए तो आंख के अंदर का दाब बढ़ जाता है। ग्लूकोमा में अंतर नेत्र पर दाब, प्रभावित आंखों की दाब सहने की क्षमता से अधिक हो जाता है, इसके परिणामस्वरूप नेत्र तंतु को क्षति पहुंचती है, जिससे दृष्टि चली जाती है।

Glaucoma in Hindi

Glaucoma Symptoms ||ग्लूकोमा के लक्षण:

  • आँखों से पानी आना।
  • आँखों का बड़ा होना।
  • मितली या उलटी होना।
  • कार्निया का धुंधलापन।
  • सिरदर्द।
  • आंखों में लालिमा।
  • धुंधलापन, रात में दिखना भी बंद हो जाता है।
  • दृष्टि में उत्पन्न आभामंडल।
  • चश्मे के नंबर में बार-बार बदलाव।
  • अंधेरे कमरे में आने पर चीजों पर फोकस करने में परेशानी होना।

Glaucoma Causes || ग्लूकोमा के कारण:

  • हृदय रोग, हाइपोथायरायडिज्म मधुमेह, उच्च रक्तचाप आदि रोग ग्लूकोमा के खतरे को बढ़ाते हैं।
  • आंख की चोट, रेटिनल डिटैचमेंट, नेत्रों में सूजन के कारण ग्लूकोमा होने की आशंकाएं बढ़ जाती हैं।
  • निकट दृष्टि दोष और दूर दृष्टि दोष के कारण ग्लूकोमा होने की आशंकाएं बढ़ जाती हैं।
  • 60 साल से अधिक उम्र के लोगों में ग्लूकोमा का खतरा बढ़ जाता है।
  • कॉर्टिको स्टेरॉयड व आई ड्रॉप्स का अधिक समय तक उपयोग करने से ग्लूकोमा  का खतरा बढ़ जाता है।
  •  सर्जरी हुई हो तो भी ग्लूकोमा होने की आशंका बढ़ती है।

Glaucoma Treatment || ग्लूकोमा का इलाज:

  • सौंफ भी स्वस्थ आंखों के लिए अच्छा घरेलू नुस्खा है।
  • खाने में पालक ज्यादा खाएं
  • विटामिन ए आंखों के स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी है।
  • ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जिनसे विटामिन ए की पूर्ति हो।
  • बादाम, दूध, संतरे का जूस, खरबूजे, अंडा, सोयाबीन का दूध, मूंगफली आदि
  • का ज्यादा मात्रा में सेवन कीजिए।
  • हर दो साल में आंखों की नियमित जांच करवाते रहिए।
  • अगर आपके चश्मे का नंबर बदल रहा है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क कीजिए।

तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेन्ट करके जरुर बताना धन्यवाद् |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *