Lice Treatment in Hindi || जूँ घरेलू उपचार

By | May 24, 2018

Lice Treatment in Hindi || जूँ घरेलू उपचार:

जूं  तिल के आकार की एक छोटी परजीवी है जो मनुष्य के शरीर में पैदा हो जाती हैं। सामान्यत: यह बालों में पाये जाते हैं। ये बड़ी तेजी से चल सकती हैं। इस कारण बालों के बीच इन्हें खोजना कठिन हो जाता है।

जुओं का आहार और खान पान मनुष्य का रक्त होता है। वह जिसके सिर में रहती हैं उसका रक्त पीकर जीती हैं।जुएँ बहुत ही महीन, पंख रहित कीड़े  होते हैं जो सिर में आसानी से नज़र नहीं आते। वे भूरे और स्लेटी रंग की होती हैं और हर जूँ की लम्बाई चौड़ाई एक तिल से ज़्यादा नहीं होती।

सर में जुएं होने के सबसे आम लक्षण हैं सिर में खुजली और सिर में लाल चकत्तों का होना। जुएं एक बार सिर में आ जाने के बाद काफी तेज़ी से बढ़ते हैं अतः कुछ दिनों में इन्हें निकाल पाना संभव नहीं हो पाता।Lice Treatment in Hindi

जूँ के लक्षण || Lice Symptoms:

  • जुओं के अंडे की मात्रा सिर में अत्यधिक बढ़ने के कारण यह बारीक डैंडरफ की तरह दिखने लगते हैं।
  • सिर में बार-बार खुजली होना
  • जूँ और खासतौर पर उनके अंडे बहुत ही छोटे आकार के होते हैं
  • और उनका रंग सफेद, भूरा या गहरा भूरा या स्लेटी होता है।

जूँ का घरेलू उपचार:

सिर की जुएँ एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में सीधे संपर्क में आने के कारण स्थानांतरित होती हैं। संदूषित कंघियाँ और हेयर ब्रश इस्तेमाल करने से, या संदूषित चद्दरें, तौलिये या शावर कैप बाँट कर इस्तेमाल करने से भी सिर की जुएँ फैलती हैं।

नीम :

नीम का रस या नेम का तेल जुओं की दवा के रूप में खास तरीके से काम करता है। नीम की पत्तियों को पीसकर उसका रस निकाल लें, इस रस को बालों में अच्छी तरह लगा कर रखने से जुएँ मर जाती हैं। इसके अलावा नीम के तेल का प्रयोग भी बालों की जूँ का घरेलु उपाय है।

नींबू:

दो चम्‍मच नींबू के रस में एक चम्‍मच अदरक का पेस्‍ट मिलाएं और इसको अपने सिर पर 20 मिनट के लिए लगा कर छोड़ दें। जब यह सूख जाए तो इसे ठंडे पानी से धो लें और यह कार्य हफ्ते में दो बार करें।

लहसुन:

लहसुन का रस और नीबू का रस बराबर मात्रा में मिला लीजिये।इस रस को रात को सोते समय अपने बालों में लगाना चाहिये और सुबह शैम्पू या साबुन से सिर धो लेना चाहिये। ऐसा सप्ताह में 3 से 4 बार करना चाहिये। इससे कुछ ही समय में सिर की सभी जूँएँ पूरी तरह ख़त्म हो जाती हैं।

नमक:

यह निर्जलीकरण प्रक्रिया द्वारा सर से जुओं को हटाता है। सिर की जूँ, नमक और सिरके का पेस्ट बनाएं और सिर पर लगाएं। अब सिर को शावर कैप से ढक दें और 2 घंटे तक ऐसे ही छोड़ दें। इसके बाद बालों में शैम्पू एवं कंडीशनर का प्रयोग करें।

काली मिर्च का पाउडर:

आधा चम्मच काली मिर्च का पाउडर और एक कप दही दो चम्मच नींबू के रस के साथ मिलाकर, नहाने से 20 मिनट पहले सिर पर लगाने से सिर की जुओं का पूर्ण रूप से खात्मा होता है। पर एक बात याद रखें कि नहाते वक़्त अपनी आँखें बंद रखें वर्ना काली मिर्च का पाउडर आपकी आँखों को जलन से परेशान कर सकता है।

प्याज़ के रस:

बालों में प्याज़ के रस से मालिश कीजिये। 1 घंटा इसे लगा रहने दीजिये और फिर बाल धो लीजिये। इसे 1 दिन छोड़कर 1 दिन करना चाहिये।इससे जूँएँ बहुत ही जल्दी ख़त्म हो जाती हैं।

तुलसी के पत्‍तों:

तुलसी के पत्‍तों का पेस्‍ट बनाएं और इसे सिर में लगा कर 20 मिनट तक सूखने दें। जब सूख जाए तब सिर को धो लें। रात को सोने से पहले भी कुछ पत्‍तियों को अपने तकिए के नीचे रख कर सोएं।

तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेंट्स करके जरुर बताना धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *