lung Cancer In Hindi || फेफड़ों का कैंसर के उपचार

By | May 23, 2018

lung Cancer In Hindi || फेफड़ों का कैंसर के उपचार:

दुनिया भर में कैंसर के जितने मामले सामने आते हैं उनमें से सबसे ज्यादा मामले फेफड़े के कैंसर के होते हैं। माना कि मानव शरीर में कोशिकाओं का विकास एक नियंत्रित प्रणाली के रूप में होता है लेकिन कुछ कोशिकाओं का एक ऐसा समूह होता है जो कि अनियंत्रित रूप से बढ़ता है और विकसित होता है। इन कोशिकाओं को कैंसर कोशिकाएं कहते हैं।

अगर किसी व्यक्ति को अक्सर खांसी रहती है जो लाख घरेलू उपचारों से ठीक होने का नाम हीं नहीं ले रही हो या साधारण डॉक्टर की दवाइयां भी जिसपर  बेअसर हों तो उस व्यक्ति को किसी विशेषज्ञ से दिखलाना चाहिए।

फेफडों का मुख्य कार्य साँस और रक्त के बीच गैसों का आदान प्रदान करना है। ऑक्सीजन फेफडों के माध्यम से शरीर में प्रवेश करती है और कार्बन डाईआक्साईड साँस द्वारा बाहर छोड़ी जाती है।lung Cancer In Hindi

फेफड़ों का कैंसर के लक्षण || Lung Cancer Symptoms:

ग्रीन टी:

ग्रीन टी में एंटी ऑक्सीडेंट होता है जो फेफड़े के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद है। दिन में दो कप ग्रीन टी लेने से काफी फायदा होगा। ग्रीन टी में थोड़ा शहद मिला दें तो और बेहतर।

रेस्वेराट्रोल:

यह रेड वाइन में पाया जाता है और फेफड़े के कैंसर में इसका सेवन काफी असर करता है।  रात में डिनर के साथ एक पैग रेड वाइन लेना फेफड़े के सेहत के लिए काफी फायदेमंद है।

विटामिन डी:

फेफड़े कैंसर के मरीजों के लिए विटामिन डी लेना काफी जरुरी है। इससे फेफड़े की मांसपेशियों में मजबूती आती है। धूप स्नान करना और सूर्य की रोशनी के संपर्क में रहना विटामिन डी लेने का सबसे बड़ा जरिया है।

नोनी:

यह एक ट्रापिकल फूड है जो फेफड़े के कैंसर में काफी असरदार होता है। इसे खाया भी जाता है और इसके जूस भी पीए जा सकते हैं।

तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेन्ट करके जरुर बताना धन्यवाद् ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *