Mouth Ulcer Treatment in hindi

Mouth Ulcer Treatment in hindi || मुंह के छाले का घरेलू उपचार:

मुंह के अंदर जो नर्म और मुलायम ऊतक होते हैं, जिसे म्यूकस मेंब्रेन कहते हैं, उसी में छाले पड़ते हैं। यह अकसर खाने के दौरान या काफी गर्म खाने से गाल के चमड़े के कटने से होता है।

असंतुलित आहार, पेट में दिक्कत, पान-मसालों का सेवन छाले का प्रमुख कारण है। छाले होने पर बहुत तेज दर्द होता है। अक्सर तीखा और रुक्षण भोजन करने से या कब्ज की समस्या के कारण ये समस्या हो जाती हैं। अगर आपको कब्ज रहती हैं तो पहले अपनी कब्ज का इलाज कीजिये। क्यूंकि छालो को सही कर लोगे तो कब्ज के कारण ये समस्या फिर से उत्पन्न हो जाएगी।Mouth Ulcer Treatment in hindi

मुंह के छाले के कारण || Mouth Ulcer Causes:

  • नियमित खानपान
  • कब्ज होना
  • हॉर्मोन में बदलाव
  • पेट की गैस
  • किसी वजह से मुंह के अन्दर चोट लगने पर
  • कुछ मामलों में यह वंशानुगता के कारण भी हो सकते हैं।
  • दवाओं के साइड इफेक्ट की वजह से भी हो सकते है
  •  पोषक तत्वों की कमी जैसे complex,vitamin B, vitamin C, iron
  • कई बार पेट की गर्मी से भी छाले हो जाते हैं।
  • दांतों की ठीक प्रकार सफाई न करने से।

मुंह के छाले के लक्षण || Mouth Ulcer Symptoms:

  • मुंह के अंदर सफेद और लाल गोल-गोल छाले
  • भूख में कमी

मुंह के छालों का घरेलू नुस्खे:

शहद:

शहद में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी माइक्रोबल गुण होते हैं। उपचार के लिए रूई के फाहे को शहद में डुबाकर, प्रभावित स्थान पर लगाएं। इसी तरह ग्लिसरीन और विटामिन ई तेल को भी लगाया जा सकता है।

हार्मोनल में परिवर्तन:

शरीर में हार्मोंन के स्‍तर में परिवर्तन के कारण भी मुंह में छाले होते हैं। यह आमतौर पर मासिक धर्म चक्र के दौरान कुछ महिलाओं में देखने को मिलता है।

नारियल का दूध:

नारियल का दूध छालों के दर्द को कम करने में काफी फायदेमंद होता है। एक चम्मच नारियल के दूध में थोड़ा सा शहद मिला लें। अब इसे छालों पर लगायें। इसे दिन एन तीन-चार बार करें। नारियल के दूध को 10 से 15 मिनट के लिए मुंह में रखने से भी फायदा होता है।

धनिया पत्ती:

धनिया पत्ती को कच्चा चबाने से मुंह के छालों से राहत मिलती है। धनिया पत्ती में फ़ॉलिक एसिड के साथ विटामिन बी 1, बी 2, बी 6 और विटामिन सी पाया जाता है। धनिया पत्ती को डंडी के साथ लगभग 10 मिनट तक चबाना चाहिए।

अजवायन:

अजवायन के पौधे के ताने को केवल चबाने से ही मुंह के छाले ठीक होने लगते हैं इसके साथ ही इसमें folic acid और vitamins B1, B2, B6, C भी होते हैं।

एलोवेरा:

एलोवेरा का रस, प्रभावित स्थान पर लगाने से अल्सर से होने वाले दर्द से राहत मिलती है। एलोवेरा प्राकृतिक एंटीसेप्टिक की तरह कार्य करता है जिससे छाले जल्दी ठीक होते हैं।

तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेन्ट करके जरुर बताना धन्यवाद्।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here