Prostate Cancer Symptoms in Hindi || प्रोस्टेट कैंसर के उपचार

By | May 29, 2018

Prostate Cancer Symptoms in Hindi || प्रोस्टेट कैंसर के उपचार:

प्रोस्टेट कैंसर पुरुषों में दूसरा सबसे अधिक पाया जाने वाला सामान्य कैंसर है प्रोस्टेट कैंसर के लक्षणों का पता अगर शुरुआत में ही चल जाए तो इसके इलाज में आसानी होती है। प्रोस्टेट एक ग्रंथि है जो कि पेशाब की नली के ऊपरी भाग के चारों तरफ होती है। यह ग्रंथि अखरोट के आकार जैसी होती है जिसका काम वीर्य में मौजूद एक द्रव पदार्थ का निर्माण करना है।

प्रोस्टेट कैंसर प्रोस्टेट ग्लैंड में शुरू होता है। प्रोस्टेट ग्लैंड ब्लैडर के नीचे, गुदा के आगे और मूत्रमार्ग के ऊपरी भाग में उपस्थित होती है। यह मूत्राशय (bladder) को नियंत्रित करने में मदद करती है और seminal fluid पैदा करती है जो sperm को पोषण प्रदान करता है और उनके ट्रांसपोर्ट में मदद करता है।

Prostate Cancer

Prostate Cancer

Prostate Cancer Symptoms || प्रोस्टेट कैंसर के लक्षण:

  • रात में बार-बार पेशाब आता है।
  • आदमी सामान्य अवस्था की तुलना में ज्यादा पेशाब करता है।
  • पेशाब करने में दिक्कत होना।
  • सेक्स के दौरान वीर्य निकलते वक्त दर्द होना।
  • सेक्स के समय लिंग में कठोरता ना आना।
  • प्रोस्टेट कैंसर के मरीजों को कूल्हों में, कमर के निचले हिस्से में निरंतर और अत्यधिक दर्द रह सकता है।
  • पतली धारा मूत्र की पतली धारा / कम दबाव।
  • पेशाब रुक-रुक कर आता है।
  • पेशाब करते वक्त जलन होती है।

Prostate Cancer Causes || प्रोस्टेट कैंसर के कारण:

  • व्यायाम और शारीरिक गतिविधि की कमी के कारण भी हो सकता है।
  • प्रोस्टेट कैंसर मुख्य रूप से 50 से अधिक उम्र के पुरुषों में होता है।
  • कभी-कभी असुरक्षित तरीके पुरूषों की नसबंदी भी प्रोस्टेट कैंसर का कारण बनता है।
  • ज्यादा वसायुक्त मांस खाना भी प्रोस्टेट कैंसर का कारण बन सकता है।
  • आनुवांशिक भी हो सकता है।
  • धूम्रपान करने से प्रोस्टेट कैंसर भी बढ़ाता है।
  • सैचुरेटेड फैट, शराब और विटामिन सी के सप्लीमेंट का अत्यधिक सेवन करने से हो सकता है
  • यह उन दुर्लभ कैंसर में से है जिनके कोई परिभाषित जोखिम कारक नहीं होते हैं।

प्रोस्टेट कैंसर से बचाव के घरेलू नुस्खे:

  • अनार के दानों को यूं ही खाया जा सकता है या अनार का जूस निकालकर भी पीया जा सकता है।
  • प्रोस्टेट कैंसर से बचाने में अनार बेहद फायदेमंद हैं।
  • ग्रीन टी एक ऐसी हर्ब है जिसमें बहुत से गुण होते हैं और यह प्रोस्टेट कैंसर के उपचार में भी सहायक है।
  • कच्चा टमाटर या टमाटर की सॉस, चटनी, कैचअप या सलाद और सब्जी के रूप में भी खाया जा सकता है।
  • अदरक में एंटीफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट और एंटीप्रोलिफिरेटिव गुण होते हैं जो कैंसर को बढ़ने से रोकती हैं।
  • कद्दू के बीजों को इकट्ठा करके उन्हें कच्चा ही खाएं। इसके अलावा इन बीजों की चाय बनाकर भी पी सकते हैं।
  • इस चाय को लाभ होने तक रोजाना पीएं।
  • शरीर में ओमेगा 3 की मात्रा बढ़ाने के लिए फिश ऑयल के कैप्सूल सप्लीमेंट के रूप में भी लिए जा सकते हैं।
  • विटामिन डी की उचित मात्रा होने से प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा नहीं रहता।
  • सोया में सायटोस्ट्रोजन होता है जो कि टेस्टोस्टीरोन का स्त्राव तेज करता है।
  • पानी खूब पीना है बल्कि अन्य हेल्दी पेय भी आपकी बहुत सहायता कर सकते हैं।
  • सब्जियों और फलों के जूस के साथ ही हेल्दी सूप भी बेहद फायदेमंद हैं।

तो दोस्तों आज की यह पोस्ट केसी लगी कमेंट्स करके जरुर बताना धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *