Skin Cancer in Hindi || स्किन कैंसर का इलाज

By | May 30, 2018

Skin Cancer in Hindi || स्किन कैंसर का इलाज:

शरीर में समय के साथ कई बदलाव आते हैं। हमारी पुरानी कोशिकाओं के खराब होने या नष्ट होने पर नई कोशिकाओं का बनना सामान्य बात है। लेकिन कई बार शरीर को नई कोशिकाओं की जरूरत नहीं होती फिर भी कोशिकाएं विभाजित होती रहती हैं। त्वचा की कोशिकाओं में यही असामान्य बढ़ोत्तरी त्वचा का कैंसर कहलाता है।

जैसे चेहरा, होंठ, गर्दन, बांह, हाथ और महिलाओं की पैर की त्वचा पर। हालांकि कुछ ऐसे मामले भी देखे गए हैं जिसमें शरीर के उस अंगों की त्वचा में भी स्किन कैंसर हुए हैं जहां सूरज का किरणें पड़ती ही नहीं हैं जैसे- हथेली, हाथ की उंगलियों के नाखून की त्वचा, पैर के अंगूठे की त्वचा और जननांग।skin cancer1

Skin Cancer Symptoms || स्किन कैंसर के लक्षण:

  • धूप में जाने पर या त्वचा पर जलन, खुजली और लाली आ जाना।
  • स्किन पर धब्बे अगर छह हफ्तों से ज्यादा रहें।
  • माथे, गाल, गर्दन और आंखों के आसपास की त्वचा पर लाली छाना और उसमें खूब जलन होना।
  • किसी बर्थ मार्क जैसे तिल या किसी निशान के आसपास की त्वचा पर अचानक से परिवर्तन आना।
  • बार-बार एक्जीमा होना और धीरे-धीरे फैलते जाना भी स्किन कैंसर का लक्षण हो सकता है।
  • माथा, गाल, ठुड्डी और आंखों के आस-पास की त्वचा लाल हो और उसमें खूब जलन हो।

Skin Cancer Causes || स्किन कैंसर के कारण:

  • स्किन कैंसर सूर्य की पराबैंगनी किरणों के संपर्क में आने से होता है।
  • सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों में ज्यादा देर तक रहने से खतरा बड़ता है।

त्वचा के कैंसर से बचाव के लिए घरेलू नुस्ख़े:

हल्दी:

हल्दी में मौजूद करक्यूमिन तत्व कैंसर के सेल्स को मारने में प्रभावी है खासकर ब्रेस्ट कैंसर, पेट का कैंसर और त्वचा कैंसर में हल्दी अधिक प्रभावी है।

विटामिन डी:

इसके लिए कुछ देर धूप में बैठें। धूप में बैठना संभव न हो तो, विटामिन डी 3 सप्लीमेंट के रूप में लिया जा सकता है। विटामिन डी से शरीर की इम्यूनिटी पावर बढ़ती है और शरीर कैंसर से लड़ने के लिए शक्तिशाली बनता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *