Small Breast Problem Solution || छोटे स्तन के कारण और उपचार

By | May 31, 2018

Small Breast Problem Solution || छोटे स्तन के कारण और उपचार:

स्तन यानि ब्रैस्ट को महिला के शरीर का सबसे ख़ूबसूरत व् आकर्षित अंग मन जाता हैं। इसीलिए हर महिला चाहती हैं की उसके स्तन आकर्षित व् सही आकार के हो। ये महिला की खूबसूरती को बढ़ाने के साथ उन्हें सेक्सी लुक देने में भी मदद करते हैं। लेकिन कई महिलाओ के साथ ये समस्या होती हैं की उनके स्तनों का पूरी तरह से विकास नहीं हो पाता हैं। इसीलिए कई बार महिलाएं शर्मिंदा महसूस करती हैं। और सोचती हैं की उनके स्तनों के आकार को कैसे सुडौल व् बड़ा बनाया जा सकता हैं।

पुरुषों को पर्सनालिटी बनाने के लिए जैसे मसल्स की जरूरत होती है वैसे ही महिलाओं को उसका शरीर आकर्षक दिखाने के लिए मेंटेन फिगर की आवश्यकता होती है। लेकिन बहुत सारी महिलाएं ऐसी होती है जो अपनी फिगर बिल्कुल मेंटेन नहीं रख पाती है।

Small Breast Causes || छोटे स्तन के कारण:

  • व्यायाम न करना।
  • असंतुलित भोजन करने के कारण भी कई महिलाओं के स्तन छोटे रह जाते हैं।
  • अधिक मानसिक तनाव में रहने के कारण भी महिला के स्तन छोटे रह जाते हैं।
  • हॉर्मोन्स में गड़बड़ी होना।
  • अनियमित मासिक धर्म होने के कारण।
  • आनुवांशिकता के कारण भी हो सकता है।
  • कुपोषण के शिकार होने के कारण भी स्तन छोटे हो सकते है।
  • अत्यधिक शारीरिक श्रम करने के कारण ।
  • शरीर में विटामिनो की कमी हो जाना।
  • टीनएज में सेक्स होर्मोंस की कमी।

छोटे स्तन का उपचार:

  • स्तनों की मालिश करने के लिए जैतून का तेल सबसे ज्यादा प्रभावी साबित हुआ है।
  • सरसों के तेल से 20 मिनट तक स्तनों की मालिश करते हो तो भी आपको अच्छा रिजल्ट मिल सकता है।
  • स्तनों की मालिश करते समय आपने स्तनों को हल्के हाथों से दबाना चाहिए।
  • आपने स्तनों की मालिश करते वक्त हाथों की उंगलियों से स्तनों को पूरी जोर से दबा कर मालिश करना चाहिए।
  • सही नाप की ब्रा पहनें। ब्रा न अधिक ढीली हो न ही अधिक कसी हुई हो।
  • रात को सोते समय ब्रा को अवश्य उतार दें ताकि स्तन दिन भर के कसाव से मुक्त हो सकें।
  • स्तन छोटे रह जाने पर उन्हें बड़ा करने के लिए विटामिन युक्त संतुलित पौष्टिक आहार लें।
  • स्तनों पर ठंडे पानी की बौछारें दें। इससे स्तनों की कोशिकाओं में रक्त संचार अच्छी तरह होगा।
  • दो चम्मच भैंस के गाढ़े दूध में एक चम्मच बादाम का तेल मिलाकर अच्छी तरह फेंट लें। इससे स्तनों की मालिश करें।
  • प्रतिदिन एक चम्मच पाउडर को सुबह या दोपहर में खाने से पहले लें।
  • और एक चम्मच अलसी के बीज का पाउडर रात में सोने से पहले लें और बाद में एक गिलास पानी पिए।
  • आप चाहें तो दूध भी ले सकते हैं। या फिर आप इसे आटे में मिलाकर इसकी रोटियां बना कर खा सकती हैं।
  • इससे आपके स्तनों का ढीलापन भी दूर होगा।
  • तैरना, रस्सी कूटना, रॉड पकड़कर झूलना स्तन के संतुलित विकास के लिए व्यायाम है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *