Vitamin B-6 क्यों आवश्यक है और क्या फायदे है -Healthplushindi

By | March 30, 2018

Vitamin B-6 क्यों आवश्यक है और क्या फायदे है –

न्यूरोट्रांसमीटर केमिकल जो एक तंत्रिका कोशिका से दूसरी तंत्रिका कोशिका में संकेत भेजते हैं| कोशिका के बनने के लिए पायरीडोक्सीन या विटामिन बी 6 की ज़रूरत होती है। पायरीडोक्सीन सामान्य मस्तिष्क विकास और कार्य के लिए आवश्यक है, तथा यह शरीर सेरोटोनिन और नोरेपेनेफ्रिन हार्मोन बनाने में मदद करता है, जो मनोदशा को प्रभावित करता है। विटामिन बी -6 एक पानी में घुलनशील विटामिन है. इसकी आवशकता लाल रक्त कोशिका के रखरखाव, तंत्रिका तंत्र, प्रतिरक्षा प्रणाली, और कई अन्य शारीरिक कार्यों के समुचित रखरखाव के लिए है। समय के साथ, विटामिन बी -6 की कमी से त्वचा मे जलन, अवसाद, भ्रम, आक्षेप और यहां तक कि एनीमिया भी हो सकता है।

Vitamin B-6 के लाभ: 

Vitamin B-6 भी एक “विरोधी तनाव” विटामिन है क्योंकि यह प्रतिरक्षा प्रणाली की गतिविधि में सुधार, और शरीर की तनावपूर्ण स्थितियों का प्रतिरोध करने की क्षमता विकसित करता है।

यह शरीर में सोडियम और पोटेशियम संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है। कैंसर के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करते हैं।

यह विटामिन हीमोग्लोबिन के निर्माण मे मदद करता है। यह विटामिन त्वचा को भी स्वस्थ रखता है।

विटामिन B-6 मानव शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र का नवीनीकरण कर आवश्यक कार्य स्तर तक लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

विटामिन B6 अनेक भावनात्मक विकारों के उपचार के लिए जिम्मेदार है। इस विटामिन की कमी हार्मोनों के निर्माण को प्रभावित कर सकती है और इन हार्मोनों के स्तर को असंतुलित कर सकती है।

विटामिन B6 मानव शरीर में हार्मोनों के स्तर को बनाये रखने में सहायक है जिससे मानव शरीर में होने वाली अनेक गतिविधियों और मेटाबोलिक क्रियाओं के नियंत्रण में सहायता मिलती है।

Vitamin b-6 in hindi

vitamin B-6 in hindi

Vitamin B-6 की कमी से होने वाले रोग:

  • चलने में कष्ट
  • रक्त अल्पता
  • आधे सिर में दर्द
  • नींद न आना
  • चिडचिडापन
  • पेट में दर्द
  • कंपन

Vitamin B-6 के खाद्य स्रोत:

  • दूध
  • चना
  • टमाटर
  • पपीता
  • सोयाबीन
  • अमरुद
  • नांरगी
  • मटर
  • दाले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *