what is Hernia in Hindi || हर्निया के लक्षण, कारण, इलाज, उपचार

By | May 21, 2018

what is Hernia in Hindi || हर्निया के लक्षण, कारण, इलाज, उपचार:

मनुष्य के शरीर के अंदर कुछ अंग खोखले स्थानों में मौजूद होते हैं। इन खोखले स्थानों को बॉडी केविटी कहते हैं। जब इन केविटी की झिल्लियां कभी-कभी फट जाती हैं तो अंग का कुछ भाग बाहर निकल जाता है। उसे ही हर्निया कहा जाता है हर्निया में पेट की मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं और उसी कमजोर जगह से आंतें बाहर निकल आती हैं।what is Hernia in Hindi

हर्निया के प्रकार:

  • जघनास्थिक हर्निया (फीमोरल हर्निया)
  • वेक्षण हर्निया (इंग्वाइनल हर्निया)
  • नाभि हर्निया (अम्बिलाइकल)

Hernia Symptoms ||हर्निया के लक्षण:

  • उल्टी
  • पेशाब करने में परेशानी
  • पेट में भारीपन 
  • आँतों का बहार आना
  • ज्यादा छींक आना
  • मल-मूत्र त्यागने में परेशानी
  • पेट में फुलावट, दर्द और भारीपन,
  • हर्निया के स्थान पर गोल उभार होना
  • फुलावट या सूजन में दर्द और भारीपन महसूस होना।

Hernia Causes || हर्निया के कारण:

  • आघात या शल्यकर्मज।
  • भारी वजन उठाना
  • पुरानी खाँसी
  • गुहा की भित्ति की दुर्बलता या कुवृद्धि।
  • पेट की मांसपेशियों में विकार

सलाह:

  • इनमें से कोई भी लक्षण दिखने पर डाक्टर से मिलें।
  • हर्निया का एकमात्र इलाज़ सर्जरी है।
  • आपका डाक्टर ओपेन सर्जरी या लैप्रोस्कोपिक सर्जरी कर सकता है।
  • लैप्रोस्कोपिक सर्जरी में कम दर्द होता है, चीरा भी छोटा लगता है और रिकवरी भी तेजी से होती है।
  • आप हर्निया को विभिन्न तरीकों से रोक सकते हैं।
  • उदाहरण के लिए वज़न उचित तरीके से उठा सकते हैं,
  • यदि आपका वज़न ज्यादा हो तो उसे घाटा सकते हैं
  • या कब्ज़ से बचने के लिए फाइबर और फ़्ल्युइड्स को आने आहार में शामिल कर सकते हैं।
  • हर्निया में कसरत करने से परहेज करें।
  • खाने के तुरंत बाद झुकें नहीं।
  • शराब पीना पूरी तरह बंद कर दें।

हर्निया के घरेलू नुस्ख़े:

बर्फ:

बर्फ से हर्निया वाले जगह दबाने पर काफी आराम मिलता है और सूजन भी कम होती है। यह सबसे ज्यादा प्रचलन में है।

अदरक के जड़:

अदरक की जड़ पेट में गैस्ट्रिक एसिड और बाइल जूस से हुए नुकसान से सुरक्षा करता है। यह हर्निया से हुए दर्द में भी काम करता है।

बबूने का फूल:

पेट में हर्निया आने से एसिडिटी और गैस काफी बनने लगती है। इस स्थिति मेंम बबूने के फूल के सेवन से काफी आराम मिलता है। यह पाचन तंत्र को ठीक करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *