Yoga for eyes to remove glasses आँखों के योग

By | March 22, 2018

Yoga for eyes to remove glasses आँखों के योग:

आँखें आपके शरीर का सबसे खूबसूरत हिस्सा होती हैं। आपको उन्हें काफी स्वस्थ रखना चाहिए तथा उन्हें हमेशा तरोताजा रखने की कोशिश करनी चाहिए। आँखें छोटी या बड़ी हो सकती हैं। कुछ लोगों की आँखें काफी खूबसूरत एवं आकर्षक होती हैं तथा वे दूसरों का ध्यान आकर्षित करने की क्षमता रखती हैं। हर मनुष्य के लिए अच्छी और तेज़ नज़र का होना काफी ज़रूरी है।

पास और दूर देखना :

  1. नासिका के अग्र भाग पर 5 से 10 सेकंड्स तक अपनी दृष्टि केन्द्रित रखें|
  2. एक खुली खिड़की के पास बैठ जाएँ या खड़े रहें, जहां से क्षितिज स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा हो| अपने हाथों को किनारे की ओर रखें|
  3. अब दूर क्षितिज पर कुछ देर तक दृष्टि केन्द्रित करें|
  4. यह प्रक्रिया 10 से 20 बार दोहराएँ|
  5. पास देखते समय साँस अन्दर लें|
  6. दूर देखते समय साँस बाहर छोड़ें|

घूर्णाकार दृष्टी से देखना :

  1. अपने पैरों को शरीर के सीध में रखते हुए बैठ जाएँ|
  2. दाएँ हाथ से मुट्ठी बांधें किन्तु अंगूठा ऊपर की ओर निकला रहे फिर उसे दाएँ घुटने पर रख लें| कोहनियाँ सीधी रखें|
  3. अपने सिर स्थिर रखें और अपनी दृष्टि अंगूठे पर केन्द्रित करें|
  4. कोहनियों को सीधा रखते हुए अपने अंगुठे से एक गोलाकृति बनाएं और अपनी दृष्टि को अंगूठे के साथ में घुमाएँ|
  5. इस व्यायाम को 5 बार दक्षिणावर्त (घड़ी चालन की सुई की दिशा में) तथा 5 बार वामावर्त (घड़ी चालन की सुई की विपरीत दिशा में) दोहराएँ|
  6. इस व्यायाम को बाएं अंगूठे से दोहराएँ|
  7. अब अपनी ऑंखें बंद कर लें और विश्राम करें|

पलकें झपकाना :

  1. अपनी आँखों को खोले रखें और आराम से बैठ जाएँ|
  2. तीव्र गति से अपनी आँखों को दस बार झपकाएं|
  3. 20 सेकेंड्स तक अपनी आँखे बंद कर विश्राम करें| धीरे से अपना ध्यान सांसो पर ले जाएँ|
  4. 5 बार यह व्यायाम दोहराएँ|

नासिका के अग्र भाग को देखना :

  1. पैरों को एक दूसरे के ऊपर रख कर बैठ जाएँ|
  2. अपने दाएँ हाथ को नासिका के सामने से सीधा ऊपर उठाएं|
  3. अपने दाएँ हाथ से मुट्ठी बांधे और अंगूठे को ऊपर की ओर रखें|
  4. दोनों आँखों की दृष्टि को अंगूठे के अग्र भाग पर केन्द्रित रखें|
  5. अब अपने हाथ को मोड़ें और धीरे धीरे अंगूठे को नासिका के अग्र भाग पर ले आएं| इस पूरी प्रक्रिया के समय अपनी दृष्टि को अंगूठे के अग्र भाग पर केन्द्रित रखें|
  6. इस स्थिति में, जब आपका अंगूठा नासिका के अग्र भाग पर तथा दृष्टि केन्द्रित है, कुछ समय के लिए बने रहें|

आप को यह पोस्ट केसी लगी कमेंट्स करके बताओ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *